latest news:- cryptocurrency में निवेश करने से पहले जाने कुछ महत्वपूर्ण बाते

Rate this post

investing tips :- क्रिप्टो मे इंन्वेस्ट करने सबसे पहले यह जान ले। की बिटकॉइन या अन्य क्रिप्टो करेंसी में इन्वेस्ट करने वालो की संख्या पूरी दुनिया में काफी तेजी बढ़ रही है। और यह संख्या में सबसे ज्यादा इन्वेस्टर,  युवा वर्ग की केटेगरी है।

 

जो जयादा संख्या में क्रिप्टोकरेंसी में निवेश कर रहे है। हलाकि कुछ ऐसे इन्वेस्टर है, जो की बिना कुछ सोचे समझे क्रिप्टो में इन्वेस्ट कर देते है। इसी के लिए आज हम latest news:- cryptocurrency में निवेश करने से पहले कुछ महत्वपूर्ण बातो के बारे में जानेगे।

और पढ़े- घर बैठे पैसे कमाने वाला एप्प

 

पोर्टफोलियो- सबसे पहले क्रिप्टो इन्वेस्टर को यह जान लेना जरुरी है, कि उन्हें अपने पोर्टफोलियो में कितना क्रिप्टो रखना चाहिए। काफी बड़े इन्वेस्टरो और एक्सपर्ट ने सुझाव दिया है, की क्रिप्टो अपने पोर्टफोलियो में क्रिप्टो का एक हिस्सा अधिकतम 5-10 फीसदी ही रखना चाहिए।

 

क्रिप्टो एक्सपर्ट ने सलाह दी है, की क्रिप्टो इन्वेस्टर उतना ही इन्वेस्ट करे जितना की पैसे डूबने पर उनकी आर्थिक स्थिति पर कोई प्रभाव ना पढ़े।

 

एक्सपर्ट्स ने कहना है, कि क्रिप्टो में इन्वेस्ट करने पर स्थिति सरकारी नीति आने के बाद और भी स्पष्ट हो जाएगी। भारत की मोदी सरकार शीतकालीन सत्र में ही क्रिप्टोकरेंसी को लेकर एक बिल लाने वाली थी।

 

लेकिन ऐसा नही हुआ। और अब क्रिप्टोकरेंसी व क्रिप्टो एक्सचेंज को रेगुलेट करने के लिए सरकार आगामी बजट सत्र 2022 में फरवरी के महीने में बिल ला सकती है।

और पढ़े- 2022 में घर बैठे amozon से पैसे कमाने के 6 तरीके

 

क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने से पहले इन बातों का रखें ख्याल Keep these things in mind before investing in cryptocurrencies

क्रिप्टो एक्सपर्ट के मुताबिक क्रिप्टो में पहली बार इन्वेस्ट करते समय ब्लू चिप क्रिप्टो एसेट्स पर विशेष विचार करना चाहिए। क्योकि  इनका मार्केट कैप अधिक होता है। यानी कि जब निवेशक जब भी अपनी क्रिप्टो होल्डिंग की बिक्री करेंगे, तो उन्हें आसानी से इसके ग्राहक मिल जाएंगे।

 

  • क्रिप्टो इन्वेस्टर को रेडिट, ट्विटर जैसे सोशल मीडिया और अन्य इंफ्लूएंशर की सलाह के आधार पर क्रिप्टो की खरीद-बिक्री से जुड़ा फैसला नहीं लेना चाहिए। जिसके फलस्वरूप किसी भी प्रकार की कोई गड़बड़ी ना हो।
  • क्रिप्टो में निवेश करने से पहले इसका जवाब खोजना चाहिए कि क्रिप्टो में निवेश क्यों करना है, अगर तुरंत मुनाफे के लिए निवेश करना चाहते हैं, तो काफी नुकसान उठाना पड सकता है।
  • एक्सपर्ट के अनुसार निवेशकों को क्रिप्टो में लंबे समय के लिए निवेश की सलाह देते हैं, क्रिप्टो के एक्सपर्ट ने शुरुआत के दिनों में 2-5 फीसदी पूंजी के साथ शुरुआत करने की सलाह दी है और फिर नियमित तौर पर निवेश करें।
  • किसी भी क्रिप्टोकरेंसी  में निवेश करने के लिए भरोसेमंद एक्सचेंजर को ही चुनें। भरोसेमेंद एक्सचेंज जांच-परख करने के बाद ही अपने प्लेटफॉर्म पर किसी क्वाइन को लिस्ट करना चाहिए। जिससे निवेशकों का रिस्क कम होता है।
  • क्रिप्टो के निवेशको को क्रिप्टो एसेट में उपलब्ध टोकन की सीमा को भी जरुर देखना चाहिए। जैसे कि बिटक्वाइन जैसी कई क्रिप्टो एसेट्स की सप्लाई लिमिटेड है, लेकिन Dogecoin और अन्य कई क्रिप्टोकरेंसी की अधिकतम सीमा नहीं है।
  • क्रिप्टो में निवेश करने से पहले निवेशकों को क्वाइन सप्लाई के अलावा इसकी क्रेडिबिलिटी और इसके संस्थापकों पर भी विचार अवश्य करना चाहिए।

 

important-tips-for-investing-in-cryptocurrency

 

क्रिप्टोकरेंसी को कहां होल्ड करें? Where to hold cryptocurrency?

अगर आप क्रिप्टो में लम्बे समय तक इन्वेस्ट करना चाहते है, तो अपने क्रिप्टो एसेट्स को स्टोर करने के लिए हार्डवेयर एसेट्स पर गौर करना चाहिए। और अगर आप शोर्ट (कम) समय के लिए और कम इन्वेस्ट करना चाहते है, तो एक भरोसेमेंद एक्सचेंज बेहतर विकल्प होगा।

 

अगर पोर्टफोलियो छोटा है, तो क्रिप्टो एसेट्स को एक्सचेंज वॉलेट से हार्डवेयर वॉलेट में ले जाने की जरूरत नहीं है। क्योंकि इस ट्रांसफर में निश्चित फीस भी चुकानी होती है, हालांकि अगर क्रिप्टो में निवेश की गई पूंजी अधिक है। तो इसे ट्रांसफर करना बेहतर है, एक वॉलेट से दूसरे में ट्रांसफर के लिए ट्रांजैक्शन चार्ज फिक्स होता है।

यह पढ़े- पैसा इन्वेस्ट करने पहले जान ले, यह चार बाते हिंदी में

 

भारत में क्रिप्टो का क्या है भविष्य? What is the future of crypto in India?

 कुछ एक्सपर्ट्स के मुताबिक मौजूदा समय में क्रिप्टो मार्केट के भविष्य को लेकर स्पष्ट रूप से कुछ नहीं कहा जा सकता है। क्रिप्टो के एक्सपर्ट के मुताबित क्रिप्टो लांग टर्म में क्रिप्टो और मजबूत हो सकता है।

 

हालांकि उन्होंने निवेशकों को अभी क्रिप्टो में एक साथ अधिक पूंजी के निवेश करने से बचने की सलाह दी है। क्योकि इसमें काफी रिस्क हो सकता है।

 

क्रिप्टोकरेंसी एक डिजिटल करेंसी होने के कारण इसमें ज्यादा निवेश करना रिस्की हो सकता है, और एक्सपर्ट ने एसआईपी (सिस्टमैटिक इंवेस्टमेंट प्लान) जैसे विकल्पों पर भी गौर करने की सलाह दी है।

 

मीनल के मुताबिक एसआईपी के जरिए इन्वेस्ट से क्रिप्टो के भाव में भारी उतार-चढ़ाव से जुड़े रिस्क को भी कम करने में मदद मिलेगी।

 

अन्य पढ़े-

 

मेरा नाम पवन है, मै visiontechindia.com ब्लॉग का फाउन्डर हूँ, मेरे द्वारा बनायीं गयी यह एक ऐसी हिंदी वेबसाइट है, जहाँ पर बिज़नेस आईडिया, टेक्नोलॉजी, GK और ऑनलाइन पैसे कमाने के बारे में जानकारी दी जाती हैं

Leave a Comment

error: Content is protected !!