KGF Full Form in Hindi। KGF क्या है। यंहा जाने पूरी जानकारी।

KGF Full Form- हाल ही में KGF movie रिलीज हुई थी, जिसे लोगो ने बहुत सराहा है, लेकिन बहुत से लोगो को नही पता है, कि KGF movie एक सच्ची घटना पर आधारित है, और आज के इस लेख में हम KGF क्या है, और KGF Full Form in Hindi, के बारे में जानेंगे।

जिन लोगो ने मूवी को देखा है, उन्हें अच्छे से पता होगा, कि KGF मूवी एक सच्ची घटना पर आधारित मूवी है, लेकिन कुछ लोगो को KGF के पीछे की कहानी के बारे में नही पता है।

जैसे- kgf क्या है, kgf कहा पर स्थित है, और KGF full form क्या है, तथा इसका नाम kgf क्यों पड़ा, इन सभी सवालो के के बारे में इस आर्टिकल में जानकारी दी गयी है, इसलिए आप सभी से निवेदन है, कि आप लोग इस लेख को अंत तक जरुर पढ़े, अन्यथा आप KGF से सम्बंधित बहुत सी जानकारियाँ मिस कर देंगे।

KGF Full Form in Hindi। KGF की फुल फॉर्म क्या है।

KGF के बारे में और अधिक जानकारी देने से पहले हम KGF की फुल फॉर्म के बारे में आप लोगो को जानकरी दे देते है, आईये जानते है, kgf की फुल फॉर्म क्या होती है, KGF full form- COLLAR GOLD FIELDS हैं।

kgf full form in hindi- यदि हम kgf full form के हिंदी के बारे में बात करे, तो इसका हिंदी में अर्थ कोलार गोल्ड फिल्ड है, जिसका संबंध एक सोने की खदान से है, और हाल ही में इस (COLLAR GOLD FIELDS) यानी KGF पर आधारित एक फिल्म भी बनायीं गयी है।

kgf-full-form-in-hindi

KGF क्या है। What is a kgf।

जो लोग KGF मूवी के देखे है, उन्हें KGF के बारे में थोड़ी बहुत जानकारी होगी, लेकिन जो लोग मूवी नही देखे है, वह लोग इस लेख को पढ़ने के बाद KGF के बारे में बहुत कुछ सिखने वाले है, तो आईये जानते है, KGF क्या है।

KGF एक कर्नाटक की कोलार जिले का एक खनन क्षेत्र हैं, और इसी के नाम पर प्रशांत नील ने KGF Movie को बनाया था KGF ( Collar Gold Field ) भारत की सबसे विख्यात खदानो मे से एक मानी जाती थी व यहाँ पर सोने की खदाने थी, और मिडिया रिपोर्ट को माने तो यहा पर 121 साल तक खनन का काम किया गया था।

लेकिन क्या आप जानते है, वर्षो तक खुदाई करने के बाद यहा से कितना सोना निकाला गया था, यदि नही तो बने रहिये हमारे इस लेख के अंत तक यहा पर हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी देने वाले है।

121 वर्ष तक खुदाई करने के बाद यहा से लगभग 900 टन से भी अधिक सोना निकाला गया था, जिसकी कीमत आज के समय में अरबो रुपये है, लेकिन क्या आप जानते है- कि बहुत सी फिल्मे रियल स्टोरी को बताने के लिए अपना कुछ नया जोड़ देती है।

लेकिन KGF में बिल्कुल ऐसा नही हैं, आपको बता दे, इस मूवी में जो कुछ भी दिखाया गया है, वह सच में घटित हुआ है, हालांकि इसकी हकीकत ये हैं की सन्‌ 1700 – 1800 में अंग्रेजों ने भारत पर कब्जा किया।

तब वे भारत की तमाम मूल्यवान जगहों की तलाश में जुटे हुए थे तब कर्नाटक के कोलार मे सोने की खदान होने का अनुमान लगाया गया था व अग्रेज अधिकारीयो ने कुछ समय पश्चात ही इस स्थान पर सोने की खदान होने की पुष्टि कर दी।

उसके बाद अंग्रेजों ने यहाँ पर खदान का कार्य शुरु करा दिया व यहाँ पर लम्बी लम्बी कई सारी सुरंगें बनायी गयी ये सुरंगें विश्व की सबसे लम्बी सुरंगों में से एक मानी जाती हैं।

इनके बारे में भी पढ़े-

 

केजीएफ का इतिहास क्या है।

साल 1850 के पहले KGF के बारे में हर एक अंग्रेज को पता था, जिसके बाद समय-समय पर खुदाई भी की गयी, लेकिन कुछ हाथ नही लगा, जिसके बाद इस खदान को अंग्रेजो के द्वारा बंद कर दिया गया था।

लेकिन साल 1873 में लेवेली नाम के एक अंग्रेज ने मैसूर के महाराज की सरकार को पत्र लिखकर कोलार में खुदाई का लाइसेंस मांगा। 2 फरवरी 1875 को कोलार में 20 सालों तक खुदाई करने के लिए लेवेली को लाइसेंस मिला और इसकी के साथ भारत में आधुनिक खनन के युग की शुरुआत हुई।

जिसके बाद यह छेत्र अंग्रेजो को एक पसंदीदा छेत्र बन गया था, और कुछ ही वर्षो के बाद यह दुनिया का सबसे ज्यादा सोन देने वाला छेत्र बन चूका था, और ज्यादातर सोना kgf से नकले जाने लगा।

इसी समय यहा पर बिजली की शुरुवात की गयी  थी कोलार गोल्ड फील्ड की जरूरतो को पूरा करने के लिए वहां से 130 किलोमीटर दूर कावेरी बिजली केंद्र बनाया गया। जिसके बाद केजीएफ बिजली पाने वाला भारत का पहला शहर बन चूका था।

KGF से सम्बंधित कुछ रोचक तथ्य-

  • टीपू सुल्तान की मौत के बाद अंग्रेजो ने KGF पर कब्ज़ा किया था।
  • 1873 में लेवेली ने मैसूर के महाराज की सरकार को पत्र लिखकर कोलार में खुदाई का लाइसेंस मांगा था।
  • कोलार गोल्ड फील्ड की जरूरत पूरा करने के लिए वहां से 130 किलोमीटर दूर कावेरी बिजली केंद्र बनाया गया था।
  • उस समय केजीएफ बिजली पाने वाला भारत का पहला शहर बन गया था।
  • आज के समय में जापान के बाद यह एशिया का दूसरा सबसे बड़ा प्लांट कावेरी बिजली केंद्र है।
  • साल 1905 में भारत का 95% सोना KGF से निकाला जाता था।
  • कोलार गोल्ड फील्ड में 121 वर्ष से भी अधिक समय तक खुदाई की गई है।
  • अंग्रेज कोलार गोल्ड फील्ड को मिनी इंग्लैंड भी कहा करते थे।
  • साल 1930 में कोलार गोल्ड फील्ड में 30 हजार से भी ज्यादा मजदुर काम किया करते थे।
  • एक रिपोर्ट के अनुसार 121 वर्ष में कोलार गोल्ड फील्ड से 900 टन से भी अधिक सोना निकाला गया था।

और पढ़े-

KGF से सम्बंधित पूछे जाने वाले प्रश्न-

  • KGF कहा पर स्थित है?

    Ans- KGF कर्नाटका के कॉलर जिले में स्थित है।

  • अंग्रेजो ने kgf पर कितने वर्षो तक राज किया था?

    Ans- अंग्रेजो ने kgf पर 200 वर्ष तक हुकूमत की थी।

  • भारत का प्रथम बिजली प्राप्त करने वाला शहर कौन सा है?

    Ans- भारत का सर्वप्रथम बिजिली पाने वाला शहर KGF है।

  • केजीएफ़ में कितने वर्षो तक खुदाई की गई है?

    Ans- केजीएफ़ में 121 वर्ष से भी अधिक समय तक खुदाई की गई है।

  • KGF full form की हिंदी क्या है?

    Ans- KGF ki full form- COLLAR GOLD FIELDS हैं, और इसे हिंदी में खनन छेत्र के नाम से जनन जाता है।
     

आज हमने क्या सिखा-

आज के इस पोस्ट में हमने KGF Full Form in Hindi, KGF क्या है, और KGF से सम्बंधित बहुत से आवश्यक प्रश्नों के जवाब दिए है।

इस पोस्ट में हमने kgf full form तथा kgf से सम्बंधित पूछे जाने वाले प्रश्नों के बारे में भी जानकारी दी है, यदि आपको यह लेख पढने में पसंद आया है, तो इसे अपने दोस्तों व शोसल मिडिया पर जरुर शेयर करे।

तथा अन्य किसी भी जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग को बुकमार्क करना ना भूले, क्योकि यहा पर टेक्नोलॉजी, एजुकेशन और ऑनलाइन पैसे कमाने से सम्बंधित टॉपिक पर जानकारी शेयर की जाती है।

4.4/5 - (87 votes)

Share this content

Pawan Yadav

मेरा नाम पवन है, मै visiontechindia.com वेबसाइट का फाउन्डर हूँ, मेरे द्वारा बनायीं गयी यह एक ऐसी हिंदी वेबसाइट है, जहाँ पर बिज़नेस आईडिया, टेक्नोलॉजी, एजुकेशन, GK और ऑनलाइन पैसे कमाने से सम्बंधित जानकारी शेयर की जाती हैं।

Leave a Comment

error: Content is protected !!