Makka madina kaun se desh mein hai। अभी जाने-

आज के इस आर्टिकल में हम makka madina kaun se desh mein hai इसके बारे में जानकारी देने वाले है, और इसी के साथ में हम मक्का मदीना के बारे में कुछ रोचक तथ्यों के बारे में जानेगे, इसलिए आप लोग इस लेख को अंत तक जरुर पढ़े।

सऊदी अरब आज के विकसित देशों में से एक है, यह देश जितना अपने कच्चे तेल की वजह से फेमस नहीं है, उतना यह मक्का मदीना की वजह से फेमस है, मुसलमानों के लिए मक्का मदीना जाना काफी गर्व की बात होती है, ऐसा माना जाता है कि हर एक मुसलमानों को अपने जीवन में एक बार मक्का मदीना जरुर जाना चाहिए।

ऐसा माना जाता है, कि जो मुसलमान मक्का की यात्रा कर लेते है, तो उस मुसलमान के सारे पाप और सारे दुख दर्द मिट जाते हैं ठीक उसी तरह इस्लाम धर्म में भी ऐसा माना जाता है, कि मक्का मदीना जैसी पाक जगह के दर्शन करने के बाद इंसान खुदा के नेक बंदों में शामिल हो जाता है।

इसलिए हर मुस्लिम की यह ख्वाहिश होती है, कि वह मरने से पहले एक बार हज की यात्रा जरूर करें, दोस्तों इस बात का अंदाजा ऐसे लगा सकते हैं, कि मुस्लिम चाहे दुनिया के किसी भी कोने में नमाज पढ़ते हो, लेकिन नमाज पढ़ते समय उनका मुख मक्का मदीना की तरफ होता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि भारत में रहने वाले मुस्लिम पश्चिम की तरफ मुंह करके नमाज पढ़ते हैं क्योंकि हमारे देश से मक्का मदीना पश्चिम में स्थित है।

makka-madina-kaun-se-desh-mein-hai

Makka madina kaun se desh mein hai। मक्का मदीना कहा पर स्थित है?ल।

मदीना मक्का मदीना सऊदी अरब के उत्तर में 210 मील (340 किमी) और लाल सागर तट से लगभग 120 मील (190 किमी) दूरी पर है। यह सभी हेजाज क्षेत्र के सबसे उपजाऊ हिस्से में स्थित है, इस इलाके में अभिसरण करने के आसपास की धाराएं। एक विशाल मैदान दक्षिण में फैला हुआ है; हर दिशा में दृश्य पहाड़ियों और पहाड़ों से घिरा हुआ है।

मक्का मदीना का वातावरण कैसा है-

मक्का मदीना सबसे गर्म रेगिस्तान के बीच मौजूद है, क्योकि सऊदी अरब का एनवायरमेंट कुछ ऐसा ही है, जिस जमीन पर यह स्थित है,  यहां पर हर साल बराबर मात्रा में बारिश होती है, अब आपको जानकर हैरानी होगी जो हम बताने जा रहे हैं, आपको यह भी पता होगा कि मक्का मदीना में हिंदुओं को जाना मना है।

दोस्तों अब शुरुआत करते हैं, इस बात से कि इस काबा को किसने बनाया है, तो यह जानकर आपको थोड़ा अटपटा जरूर लगेगा,  लेकिन यह बात सच है, क्योकि ऐसा कहा जाता है कि इस काबा को खुदा के हुक्म पर बनाया गया था।

लोगो का ऐसा मानना है, कि जैसा मक्का सऊदी में मौजूद है, वैसे ही एक स्वर्ग में भी मौजूद है, कुरान में यह भी लिखा गया है कि हर दिन स्वर्ग में करीब 70 लाख लोग परिक्रमा करते हैं, यही नहीं दोस्तों मक्का के बारे में एक और चीज है जो आपको हैरान कर सकती है ऐसा कहा जाता है कि काबा का निर्माण सिर्फ एक बार नहीं बल्कि कई बार किया गया है।

इसके पीछे कई बार आपदा रही तो कई बार कुछ और दिक्कत, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि साल 1996 में आखिरी दौर था जब काबा को दोबारा बनाया था साल 1996 में जो बदलाव किए गए, वह अब तक चल रहे है।

मक्का मदीना हज यात्रा का समय क्या है।

अब आपको बताते हैं, कि मक्का मदीना का हज यात्रा का समय क्या होता है, कहा जाता है सऊदी अरब की धरती पर ही इस्लाम का जन्म हुआ था इसलिए मक्का और मदीना जैसे पवित्र तीर्थस्थल में पवित्र काबा है, जिसकी परिक्रमा कर हर मुस्लिम अपने आपको धन्य मानता है।

यही वह स्थान है जहां हज यात्रा संपन्न होती है संपूर्ण संसार के अनुसार 10 जुलाई को विश्व के कोने-कोने से मुस्लिम इस पवित्र स्थान पर पहुंचते हैं जिसे ईद उल अजहा की संज्ञा दी जाती है, भारत में इसे सामान्य भाषा में बकरा-ईद (बकरीद) कहा जाता है।

मक्का मदीना क्यों प्रसिद्ध है-

मुहम्मद के समय के दौरान निर्मित पहली मस्जिद मदीना में स्थित है,  और इसे काबा मस्जिद के नाम से जाना जाता है। यह बिजली गिरने की वजह से नष्ट हो गई थी, और लगभग 850 ई, में लोग इसकी कब्र को भी भूल गए थे।

और 892 में, इस जगह को मंजूरी दे दी गई थी, यहाँ पर कई कब्रें स्थित थीं, और इसलिए यहाँ पर एक अच्छी मस्जिद बनाई गई, जो 1257 इवी0 में आग से नष्ट हो गयी थी और उसे तुरंत पुनर्निर्मित किया गया था। इसे 1487 में मिस्र के शासक ऐतबे ने बहाल कर दिया था।

मस्जिद अल-क़िबलतेन मुसलमानों के लिए ऐतिहासिक रूप से एक और मस्जिद महत्वपूर्ण है। हदीस के अनुसार यह वह जगह है जहां मुहम्मद को आदेश हुआ कि अपने किबले को यरूशलेम से मक्का की तरफ दिशा बदलें और यही सब कारण है, जिसके लिए मक्का मदीना प्रसिद्ध है।

मक्का मदीना में हिंदू का जाना क्यों मना है।

अब एक बात गौर करने वाली है कि इस स्थान पर हिंदुओं को जाना मना है। बता दें कि मक्का मदीना में केवल हिंदू ही नहीं बल्कि मुसलमान को छोड़ कर किसी भी धर्म के लोगों के जाने पर प्रतिबंध लगा हुआ है। इस धर्म के लोगों का कहना है कि अल्लाह से प्यार करने वाले ही मक्का मदीना जाने के लायक है।

अब यह सोचने वाली बात है कि कोई कैसे पहले से ही अनुमान लगा लेगा, कि कौन अल्लाह से प्यार करता है और कौन नहीं। लेकिन इस स्थान पर मुसलमान समुदाय को छोड़कर किसी अन्य धर्म के लोगों का जाना वर्जित है।

किसी अन्य धर्म के लोग मक्का मदीना में प्रवेश ही नहीं कर सकते हैं। क्योकि वहां सुरक्षा के कड़े से कड़े इंतजाम किए गए होते हैं। मक्का मदीना को लेकर कई ऐसे अफवाह और सच्चाई है।

जो लोगों के बीच समय-समय पर चक्कर लगा लिया करती है। लोग इसमें उलझे रहते हैं, लेकिन यही एक ऐसा विशेष धर्म स्थल स्थल है, जहां ईदगाह पर भी किसी अन्य धर्म के लोग नहीं भटक सकते हैं।

बाकी किसी भी धर्म के तीर्थ स्थल को देखें तो आसपास के एरिया में आपको कई धर्म के लोग मिल जाएंगे। लेकिन मक्का मदीना में मुसलमान समुदाय के अलावा किसी अन्य धर्म के लोगों का मिलना मुश्किल है।

आखिरी शब्द- आज हमने क्या सिखा-

आज के इस लेख की मदद से हमने makka madina kaun se desh mein hai व इसी के साथ में मक्का मदीना में हिन्दू क्यों नही जा सकते है, और आप सभी को जानकारी दी है, और इसके अलावा मक्का मदीना के बारे में कुछ रोचक जानकारी देने की कोशिश की है।

यदि आप लोगो को यह लेख पसंद आया हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे, ताकि उन्हें भी इस लेख से मक्का मदीना के बारे में पता चल सके।

यदि आप इस ब्लॉग पर नए आये है, तो इस ब्लॉग को सब्सक्राइब करना ना भूले, क्योकि यंहा पर एजुकेशन, टेक्नोलॉजी, बिज़नेस आईडिया और जनरल नॉलेज से सम्बंधित लेख शेयर किये जाते है धन्यवाद।

4.7/5 - (112 votes)

Share this content

Pawan Yadav

मेरा नाम पवन है, मै visiontechindia.com वेबसाइट का फाउन्डर हूँ, मेरे द्वारा बनायीं गयी यह एक ऐसी हिंदी वेबसाइट है, जहाँ पर बिज़नेस आईडिया, टेक्नोलॉजी, एजुकेशन, GK और ऑनलाइन पैसे कमाने से सम्बंधित जानकारी शेयर की जाती हैं।

Leave a Comment

error: Content is protected !!