Bharat ke rashtrapati kaun hai। 2022 भारत के राष्ट्रपति कौन है?

Bharat ke rashtrapati kaun hai- बहुत से लोगो के मन यह सवाल उठता है, की आखिर वर्तमान में भारत के राष्ट्रपति कौन हैं, तो इस लिए आज की पोस्ट में हम Bharat ke rashtrapati kaun hai इसके बारे में जानेंगे, क्योकि आज के समय में भारत का सबसे सर्वोच्च पद एक राष्ट्रपति का होता है, इसलिए हर किसी को भारत के वर्तमान राष्ट्रपति के बारे में जानकारी होना आवश्यक है।

भारत के अन्दर एक राष्ट्रपति का कार्यकाल 5 साल का होता है, और आजादी से लेकर अब तक 14 राष्ट्रपति चुने जा चुके है, और आज हम भारत के 15वें राष्ट्रपति के बारे में जानने वाले है, भारत में अन्दर राष्ट्रपति भारतीय गणराज्य का प्रमुख होता है, और भारत के राष्ट्रपति का चुनाव अप्रत्यक्ष रूप से होता है।  यानी भारत के राष्ट्रपति का चुनाव जनता द्वारा नहीं किया जाता है। भारत के राष्ट्रपति का चुनाव सांसदों और विधायकों के वोट से होता है। 

अनुच्छेद 53 के अनुसार संघ की कार्यपालक शक्ति उनमें निहित हैं। वह भारतीय सशस्त्र सेनाओं का सर्वोच्च सेनानायक भी होता हैं। सभी प्रकार के आपातकाल लगाने व हटाने वाला, युद्ध/शान्ति की घोषणा करने का अधिकार एक राष्ट्रपति को होता है। वह देश के प्रथम नागरिक हैं।और भारत में राष्ट्रपति के पद को प्राप्त करने के लिए भारतीय नागरिक होना आवश्यक है।

विषय सूची show

Bharat ke rashtrapati kaun hai? भारत के राष्ट्रपति कौन हैं।

भारत में हाल ही में राष्ट्रपति चुनाव में भारतीय जनता पार्टी द्वारा भारत की दूसरी महिला राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को चुना गया है, द्रौपदी मुर्मू ने 25 जुलाई 2022 को भारत के 15वें राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली। इससे पहले भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद थे। जिन्होंने 2017 से लेकर 2022 तक राष्ट्रपति पद का कार्यकाल संभाला था।

द्रौपदी मुर्मू का जन्म 20 जून 1958 को ओड़िशा के मयूरभंज जिले के बैदापोसी गांव में एक संथाल परिवार में हुआ था। उनके पिता का नाम बिरंचि नारायण टुडु था। उनके दादा और उनके पिता दोनों ही उनके गाँव के प्रधान थे।

उन्होंने श्याम चरण मुर्मू से विवाह किया। उनके दो बेटे और एक बेटी हुए। दुर्भाग्यवश दोनों बेटों और उनके पति तीनों की अलग-अलग समय पर अकाल मृत्यु हो गयी। उनकी पुत्री विवाहिता हैं और भुवनेश्वर में रहतीं हैं। द्रौपदी मुर्मू ने एक अध्यापिका के रूप में अपना व्यावसायिक जीवन आरम्भ किया। उसके बाद धीरे-धीरे राजनीति में आ गयीं।

और पढ़े- 

bharat-ke-rashtrapati-kaun-hai

द्रोपती मुर्मू का राजनैतिक जीवन-

द्रौपदी मुर्मू भाजपा के अनुसूचित जनजाति मोर्चा के उपाध्यक्ष के रूप में कार्य किया है। साथ ही वह भाजपा की आदिवासी मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की सदस्य भी रहीं है। द्रौपदी मुर्मू ने साल 1997 में राइरंगपुर नगर पंचायत के पार्षद चुनाव में जीत दर्ज कर अपने राजनीतिक जीवन का आरंभ किया था।

द्रौपदी मुर्मू ओडिशा के मयूरभंज जिले की रायरंगपुर सीट से 2000 और 2009 में भाजपा के टिकट पर दो बार जीती और विधायक बनीं। ओडिशा में नवीन पटनायक के बीजू जनता दल और भाजपा गठबंधन की सरकार में द्रौपदी मुर्मू को 2000 और 2004 के बीच वाणिज्य, परिवहन और बाद में मत्स्य और पशु संसाधन विभाग में मंत्री बनाया गया था।

द्रौपदी मुर्मू मई 2015 में झारखंड की 9वीं राज्यपाल बनाई गई थीं, और इन्होने सैयद अहमद की जगह ली थी। झारखंड उच्च न्यायालय के तत्कालीन मुख्य न्यायाधीश वीरेंद्र सिंह ने द्रौपदी मुर्मू को राज्यपाल पद की शपथ दिलाई थी। द्रौपदी मुर्मू ने 24 जून 2022 में अपना नामांकन किया, उनके नामांकन में  पीएम मोदी प्रस्तावक और राजनाथ सिंह अनुमोदक बने।

Bharat ke पूर्व राष्ट्रपति कौन थे?

भारत के पूर्व राष्ट्रपति को कौन नही नही जानता, इनका नाम रामनाथ कोविंद है, यह भारत के 14वें राष्ट्रपति थे, जो कि 25 जुलाई साल 2017 से 25 जुलाई 2022 तक भारत के राष्ट्रपति थे। रामनाथ कोविंद 2015 से 2017 साल तक बिहार के राज्यपाल थे। उन्होंने कानपुर विश्वविद्यालय के अंतर्गत डॉ अमित कुमार श्रीवास्तव कॉलेज से कॉमर्स और कानून का डिग्री हासिल किया था।

रामनाथ कोविन्द का जन्म उत्तर प्रदेश के कानपुर जिला (वर्तमान में कानपुर देहात जिला) की तहसील डेरापुर, कानपुर देहात के एक छोटे से गाँव परौंख में हुआ था। कोविन्द का सम्बन्ध कोरी (कोली/कोरी) जाति से है जो उत्तर प्रदेश में अनुसूचित जाति, गुजरात में अनुसूचित जनजाति एवम् उड़ीसा में अनुसूचित जनजाति आती है। वकालत की उपाधि लेने के पश्चात उन्होने दिल्ली उच्च न्यायालय में वकालत प्रारम्भ की।

वह 1977 से 1979 तक दिल्ली उच्च न्यायालय में केंद्र सरकार के वकील रहे। 8 अगस्त 2015 को बिहार के राज्यपाल के पद पर उनकी नियुक्ति हुई। उन्होनें संघ लोक सेवा आयोग परीक्षा भी तीसरे प्रयास में ही पास कर ली थी।

20 जुलाई 2017 को राष्ट्रपति के निर्वाचन का परिणाम घोषित हुआ जिसमें कोविंद ने यूपीए की प्रत्याशी मीरा कुमार को लगभग 3 लाख 34 हजार वोटों के अंतर से हराया। कोविंद को 65 फीसदी वोट प्राप्त हुए, भारत के 13 वे राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के पश्चात 25 जुलाई 2017 को भारत के 14 वे राष्ट्रपति के रूप में रामनाथ कोविंद ने शपथ ग्रहण ली।
 

भारत में राष्ट्रपति बनने के बाद क्या-क्या सुविधा मिलती है-

  • जैसे ही भारत में कोई राष्ट्रपति बनता है, तो उसे 5 लाख रूपये वेतन के रूप में दिए जाएंगे।
  • यदि चुने गए राष्ट्रपति की पति या पत्नी जीवित हैं तो उन्हें 30,000 रूपये प्रतिमाह सेक्रेटरी सहायता के रूप में दिए जाते हैं।
  • वेतन के अलवा राष्ट्रपति को चिकित्सा, आवास, यात्राएं से संबंधित भत्ते एवं सुविधाएं प्रदान करने का आदेश दिया जाता हैं।
  • राष्ट्रपति के मेहमानों और अन्य खर्चों को मिलाकर वार्षिक 22.5 मिलियन रूपये खर्च किये जाते हैं।
  • राष्ट्रपति की छुट्टियां मनाने हेतु ठहरने के लिए देश में दो निवास स्थान बनाये गए हैं एक है शिमला की रिट्रीट बिल्डिंग और दूसरी है हैदराबाद की राष्ट्रपति निलायम।
  • राष्ट्रपति बनने के बाद राष्ट्रपति को एक नया निवास स्थान प्रदान किया जाएगा, जो नई दिल्ली में बना है, जिसके अन्दर 340 कमरों का राष्ट्रपति भवन होगा
  • राष्ट्रपति के सुरक्षा गार्ड में बॉडीगार्ड की संख्या 86 है।
  • राष्ट्रपति के काफिले के साथ 25 मर्सिडीज बेंज गाड़ियां चलती हैं। इन गाड़ियों में सुरक्षा इंतजाम काफी उच्च स्तर का होता है।

एक राष्ट्रपति क्या-क्या कर सकता है-

  • एक राष्ट्रपति ही होता है, जो संविधान के अनुसार राष्ट्रपति तीनों सेनाओं का सुप्रीम कमांडर होता है।
  • आर्टिकल 352 के तहत राष्ट्रपति देश में आपातकाल की घोषणा कर सकते हैं।
  • आर्टिकल 356 के तहत किसी राज्य में विधान सभा भंग होने पर राज्य में राष्ट्रपति शासन लगा सकते हैं।
  • राष्ट्रपति अपने विवेक के अनुसार संसद में पारित किसी कानून को पुनर्विचार के लिए वापस भेज सकते हैं।
  • संविधान के आर्टिकल 72 के अंतर्गत राष्ट्रपति दोषी ठहराए गए अपराधी के मृत्यदंड की सजा को माफ़ कर सकते हैं।
  • दूसरे देशों के साथ होने वाली अंतरष्ट्रीय संधिया राष्ट्रपति के हस्ताक्षर के बिना नहीं होती हैं।
  • राष्ट्रपति मौजूदा सरकार के मंत्रिमंडल के साथ अपने अधिकारों हेतु सलाह कर सकते हैं।

राष्ट्रपति को रिटायर्मेंट के बाद क्या-क्या सुविधा मिलती है।

  • जब भी देश में कोई राष्ट्रपति अपने कार्यकाल को पूरा करने के बाद रिटायरमेन्ट होते हैं उन्हें आजीवन 1.5 लाख रुपये पेंशन के रूप में दिए जाते हैं।
  • राष्ट्रपति के रिटायर होने के बाद पूर्व राष्ट्रपति और परिवार के लोगों को निवास हेतु बंगला प्रदान किया जाता है।
  • बंगले की साफ सफाई और देख रेख करने वाले कर्मचारियों को 60 हजार रूपये प्रति महीना वेतन दिया जाता है।
  • इसके अलावा दो लैंडलाइन कनेक्शन और एक मोबाइल की सुविधा प्रदान की जाती है इन सभी सुविधाओं का खर्च भारत सरकार के द्वारा उठाया जाता है।

भारत की पहली महिला राष्ट्रपति कौन थी?

भारत देश की पहली महिला राष्ट्रपति श्रीमति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल रहीं हैं, जिन्होंने अपना कार्यकाल बड़े ही इमानदारी से निभाया है, इनका राष्ट्रपति का कार्यकाल जुलाई 25, 2007 से लेकर जुलाई 25, 2012 तक था।
 

भारत की पहली महिला राज्यपाल कौन है?

अब तक भारत की पहली महिला राज्यपाल बनने का श्रेय द्रौपदी मुर्मू के नाम है। और इसी के साथ में यह झारखंड राज्य की पहली महिला राज्यपाल है, साथ ही वह किसी भी भारतीय राज्य की राज्यपाल बनने वाली पहली आदिवासी भी हैं।
 

भारत के प्रथम राष्ट्रपति कौन थे – Bharat ke pratham rashtrapati kaun hai

भारत के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद थे। यह 26 जनवरी 1950 से 12 वर्षों से अधिक समय तक भारत के राष्ट्रपति रहे। जब यह राष्ट्रपति थे, तब उस समय भारत के प्रधानमंत्री थे जवाहरलाल नेहरू और उपराष्ट्रपति थे सर्वपल्ली राधाकृष्णन। डॉ राजेंद्र प्रसाद गांधी जी के सबसे करीबी थे। उनका जन्म 3 दिसंबर 1884 को बिहार राज्य के सिबन जिले में हुआ था। डॉ. राजेंद्र प्रसाद पेशे से वकील थे।

 

भारत के राष्ट्रपति की सूची- (कब से कब तक)

भारत जब से आजाद हुआ है, तब से लेकर अब  तक कुल 14 राष्ट्रपति चुने जा चुके, जिनके नाम व कार्यकाल के बारे में निचे चार्ट के माध्यम से जानकारी दी गयी है-

क्रमांक नाम कार्यकाल
1- डॉ. राजेंद्र प्रसाद जनवरी 26, 1950 – मई 13, 1962
2- डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन मई 13, 1962 – मई 13, 1967
3-  डॉ. जाकिर हुसैन मई 13, 1967 – मई 03, 1969
4- वराहगिरि वेंकटगिरि मई 03, 1969 – जुलाई 20, 1969
5- मोहम्मद हिदायतुल्लाह जुलाई 20, 1969 – अगस्त 24, 1969
6- वराहगिरि वेंकटगिरि अगस्त 24, 1969 – अगस्त 24, 1974
7- फखरुद्दीन अली अहमद अगस्त 24, 1974 – फरवरी 11, 1977
8- बासप्पा दनप्पा जत्ती फरवरी 11, 1977 – जुलाई 25, 1977
9- नीलम संजीव रेड्डी जुलाई 25, 1977 – जुलाई 25, 1982
10- ज्ञानी जैल सिंह  जुलाई 25, 1982 – जुलाई 25, 1987
11- रामास्वामी वेंकटरमण जुलाई 25, 1987 – जुलाई 25, 1992
12- शंकरदयाल शर्मा जुलाई 25, 1992 – जुलाई 25, 1997
13- के. आर. नारायणन जुलाई 25, 1997 – जुलाई 25, 2002
14- ऐ. पी. जे. अब्दुल कलाम जुलाई 25, 2002 – जुलाई 25, 2007
15- प्रतिभा पाटिल जुलाई 25, 2007 – जुलाई 25, 2012
16- प्रणब मुखर्जी जुलाई 25, 2012 – जुलाई 25, 2017
17- राम नाथ कोविन्द 25 जुलाई 2017 से 24 जुलाई 2022
18- द्रौपदी मुर्मू 25 जुलाई 2022 से अभी तक

राष्ट्रपति से सम्बंधित पूछे जाने वाले प्रश्न-

  1. भारत के वर्तमान राष्ट्रपति कौन है?

    Ans- वर्तमान में भारत के राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू है।

  2. भारत के राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति कौन है?

    Ans- भारत के राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू है, और उपराष्ट्रपति जगदीप धनकर है।

  3. भारत के पहली व दूसरी महिला राष्ट्रपति के नाम?

    Ans- भारत की पहली महिला राष्ट्रपति प्रतिभा पाटील है, और दूसरी द्रोपदी मुर्मू है।

  4. द्रोपदी मुर्मू कौन है?

    Ans- द्रोपदी मुर्मू भारत की 15वीं राष्ट्रपति है, इसके साथ ही यह भारत की दूसरी महिला राष्ट्रपति है।

आज क्या सीखा-

आज की पोस्ट में हमने Bharat ke rashtrapati kaun hai, और भारत में रह चुके सभी राष्ट्रपतियों के कार्यकाल के बारे में जाना है, इसके साथ ही हमने राष्ट्रपति को मिलने वाली सुविधाओं के बारे में भी जानकारी दी है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आई हो, तो इसे अपने दोस्तों व शोसल मिडिया पर जरुर शेयर करें।

ताकि उन्हें भी Bharat ke rashtrapati kaun hai, यह जानकारी पता चल सके, अन्य किसी भी सवाल की सवाल का जवाब जानने के लिए निचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करे, और हमारे ब्लॉग www.visiontechindia.com को बुकमार्क करना ना भूले।

क्योकि यहाँ पर बिज़नेस आईडिया, एजुकेशन, टेक्नोलॉजी, और ऑनलाइन पैसे कमाए, इन सभी टॉपिक पर जानकारी शेयर की जाती है।

4.4/5 - (51 votes)

Share this content

Leave a Comment

error: Content is protected !!