HR ka full form kya hai? एचआर का क्या काम होता है, पूरी जानकारी हिंदी में

HR ka full form kya hai:- मुझे काफी दिनों से कमेंट आ रहे कि सर HR ka full form kya hai और एचआर की मीनिंग क्या होती है, इसके बारे मे जानकारी दीजिये, इसलिए आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से एचआर की फुल फॉर्म के साथ-साथ एचआर किसे कहते है, तथा एचआर का क्या होता है, इन सभी सवालों का जवाब विस्तार से देंगे।

भारत में आज के समय में किसी भी प्राइवेट जॉब को करने से पहले इंटरव्यू देना पड़ता है, इसी इंटरव्यू के प्रोसेस को पूरा करने के लिए एचआर को नियुक्त किया जाता है, लेकिन अभी भी कई लोग है, जो hr ka full form kya hai तथा एचआर को हिंदी में क्या कहते है।

इसके बारे में नही जानते होंगे, लेकिन घबराईये मत आज हम अपने इस लेख की मदद से आप सभी से एचआर की फुल फॉर्म (hr ka full form) के साथ-साथ और भी रोचक जानकारी आप सभी देंगे, इसके लिए आप सभी को यह आर्टिकल पूरा ध्यानपूर्वक अंत तक पढना होगा, नही तो आप बहुत सी जानकारी को मिस कर देंगे।

HR ka full form kya hai?

आईये जानते है एचआर के फुल फॉर्म के बारे में- HR (एचआर) का फुल फॉर्म “Human Resources” होता है, जिसे हिंदी में मानव संसाधन कहा जाता है।

 

hr-ka-full-form-kya-hai

 

इनके बारे में भी पढ़े- 

 

एचआर का क्या काम होता है?

सर्वप्रथम एचआर का काम बड़ी-बड़ी कंपनियों में नए लोगों की भर्ती, तथा कंपनी के प्रबंधन को संभालना और नए कर्मचारियों को एक सही तरीके से इंस्ट्रक्शंस प्रदान करना है, सही समय पर पेमेंट करना, इत्यादि ऐसे काम काम है, जो एचआर के द्वारा किये जाते है, एचआर किसी भी कंपनी का सबसे मुख्य एम्प्लोयी होता है, जिसके द्वारा लिए गए निर्णय से सभी प्रकार के प्रारंभिक कार्यो को संपन्न किया जाता है।

 

एचआर क्या होता है?

एचआर किसी भी कंपनी में एम्प्लोयी, तथा वर्कर के मैनेजमेंट व भर्ती की प्रक्रिया को सम्भालने का काम करता है, इसी के साथ में समस्त रिक्रुमेंट के बारे में जानकारी देता है, और कंपनी के मुख्य तथा पूर्ण रूप से दस्तावेजो संभालता है, अथवा किसी नए एम्प्लॉई को किसी तरह से काम देना है, या एम्प्लोयी एचआर को कितने समय मे रिपोर्ट करे इस बात का निर्धारण कंपनी में एचआर करता है।

 

एचआरएम का फुल फॉर्म (HRM ka full form)

जैसा हमने ऊपर hr ka full form kya hota hai, इसके बारे में जाना, और अब इसी से मिलता जुलता, HRM ke full form के बारे में जानेंगे-  एचआरएम का फुल फॉर्म human resources management होता है, इसका हिंदी में अर्थ है-  मानव संसाधन प्रबंधन होता है,  जिसका कार्य कंपनी में नियुक्त, बर्खास्तगी, सैलरी, काम व इंस्टूराक्शन आदि कामो को मैनेज करना होता है।

 

एचआर (HR) की विशेषताए क्या है,

एचआर की विशेषताए कुछ इस प्रकार है-

मानव संसाधन प्रबंधन (HRM) के कार्यों में विभिन्न गतिविधियां होती है, जिनमें मुख्य रूप से यह महत्वपूर्ण फैसला करना होता है, कि आपको कितने स्टाफ की जरूरत है और क्या उन आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए स्वतंत्र ठेकेदारों या भाड़े पर कर्मचारियों की सेवा लेने की जरूरत है।

भर्ती और बेहतरीन कर्मचारी प्रशिक्षण, उच्च कार्य प्रदर्शन को सुनिश्चित करना, तथा प्रदर्शन के मुद्दों से निपटना और अपने कर्मचारियों और प्रबंधन के तरीकों को नियमों के अनुरूप सुनिश्चित करना शामिल हैं। गतिविधियों में कर्मचारी के हित और मुआवजे, कर्मचारी के रिकार्ड्स और कार्मिक नीतियों तक एचआर की पहुंच होती है।

आम तौर पर छोटे व्यवसायों (लाभदायक या गैर-लाभकारी) को यह गतिविधियां स्वयं करनी पड़ती हैं, क्योंकि वे फिलहाल पूर्णकालिक या अल्प-कालिक सहायता का खर्च वहन नहीं कर पाते. हालांकि उन्हें हमेशा यह सुनिश्चित करना होता है, कि कर्मचारी मौजूदा नियमों के अनुरूप कार्मिक नीतियों के प्रति जागरुक रहते हैं। यह नीतियां अक्सर अचार कर्मचारी मैनुअल के रूप में रहती हैं जो सभी कर्मचारियों के पास होती हैं।

यह ध्यान देने योग्य है कि कुछ लोग HRM (एक प्रमुख प्रबंधन गतिविधि) और HRD (मानव संसाधन विकास, एक पेशा) के बीच अंतर देखते हैं। ऐसे लोग HRM को HRD में यह कहकर शामिल करते हैं कि HRD में प्रतिष्ठान के अन्दर कर्मियों के विकास, जैसे कॅरियर विकास, प्रशिक्षण, प्रतिष्ठान का विकास आदि गतिविधियों का व्यापक दायरा शामिल है।

एक लम्बे समय से यह तर्क दिया जाता रहा है, कि HR के कार्य बड़े प्रतिष्ठानों में संयोजित किये जाने चाहिए, उदा.”प्रतिष्ठान विकास विभाग में HR रहना चाहिए या उसके आस-पास कोई दूसरा रास्ता होना चाहिए।

HRM के क्रिया-कलापों और HRD पेशे में पिछले 20-30 वर्षों में जबरदस्त परिवर्तन आया है। कई साल पहले बड़े प्रतिष्ठानों में “कार्मिक विभाग” ज्यादातर लोगों को काम पर रखने और भुगतान करने से सम्बंधित कागजी कार्रवाई के प्रबंधन का काम देखते थे।

एकदम हाल ही में प्रतिष्ठानों ने “HR विभाग” की प्रमुख भूमिका पर विचार किया जो प्रतिष्ठान के लिए उच्च तरीके से अधिकतम क्षमता के साथ कार्य का प्रदर्शन कर सकने में कर्मचारियों को काम पर रखने, प्रशिक्षण और लोगों के प्रबंधन में सहायता प्रदान करती है।

 

पैसे कमाने के बारे में पढ़े- 

 

HR की जिम्मेदारियाँ-

यहाँ तक देखा गया है, कि जिस कम्पनी में जिम्मेदार एचआर होता है, वह कंपनी दिन-प्रतिदिन ग्रो करती है, एक सफल एचआर अपने कम्पनी के मनेजमेंट को समझता है, और जहा पर उसे कुछ गड़बड़ी दिखाती है, वह उसे ठीक करने की कोशिश करता है, आईये जानते है, एक जिम्मेदार एचआर की महत्वपूर्ण जिम्मेदारियाँ क्या-क्या होती है-

 

  • भर्ती प्रक्रिया तथा दैनिक कर्तव्य और जिम्मेदारियों को संभालना।
  • जॉब रिक्रूटमेंट के एड को पोस्ट करना व समय पर अपडेट करना।
  • एम्प्लॉई का सही तरीके से इंटरव्यू लेना एवं उन्हें चयन करना।
  • प्राप्त हुए रिजुयम को ऑर्गनाइज व सिस्टेमेटिक करना।
  • कम्पनी कार्य प्रणाली के अनुसार रिक्रूटमेंट प्रॉसेस को अच्छी तरह पूरा करना।
  • इंटरव्यू में जो वर्कर या कर्मचारियों निकल जाते है उनका फॉर्म कम्प्लीट करना तथा सबमिट करना।
  • कर्मचारी की नई फाइल तैयार करना।
  • कर्मचारियों के सभी सवालो का जबाब देना व उस पर विनम्रता से एक्शन लेना।
  • कर्मचारी तथा वर्कर का ईएसआईसी एवं पीएफ का नंबर जनरेट करना, तथा उसे वर्कर को देना
  • इंटरव्यू के समय को नियम बनाकर मैनेज करना व फिक्स टाइम में इंटरव्यू करना।
  • मानव संसाधन प्रबंधन टीम का कैलेंडर बनाये रखना।
  • किसी भी तरह का आने वाले मेल पर नजर बनाये रखना तथा उसे संसाधित करना।
  • डेटा को कम्प्यूटर में अपडेट करना एवं दर्ज करना जिससे कर्मचारी का रिकॉर्ड बना रहे है।
  • नियुक्ति की व्यवस्था समय के अनुसार करना एवं बैठकों की व्यवस्था करना।
  • लेवल, ईएल, सीईएल एवं कर्मचारी के छुट्टी व टाइम ऑफ से सम्बन्धित समय को सुनिश्चित करना एच आर के अंतर्गत आता है।
  • पेरोल का रिव्यु करना एवं चलाना करना।
  • कंपनी के लिए बेनेफिट्स टास्क में भाग लेना व उसे पूर्ण करवाना।
  • वर्कर तथा कर्मचारियों का सैलरी का समय पर प्रॉसेस करना।
  • कर्मचारी का वेगस शीट डैली कम्प्लीट करना।
  • एम्प्लोयी का रिकॉर्ड व परफॉर्मेंस अच्छी प्रकार मेंटेन करना।
  • विभिन्न तरह के बेनेफिट्स स्टेटमेंट्स को अपडेट करना।
  • ईएसआईसी एवं पीएफ की शीट को हमेशा मेंटेन करना।
  • सभी कर्मचारियों के साथ बिना भेद भाव के सम्मान व एक समान बात करना।
  • कटौती सम्बंधित रिकॉर्ड को सही समय मे अपडेट करना।
  • समय-समय पर पेमेंट्स के लिए इनवॉइस को अप्रूव करना।

HR के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए :

आज के समय मे यदि आप एचआर में अपना कॅरियर बनाने के बारे में सोच रहे है तब उसके लिए आपको किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक होना चाहिए व स्नातक के साथ आपके पास निम्न में से किसी एक योग्यता का होना जरूरी है जैसे–

  • एचआर बनने के लिए आपके पास ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट का मास्टर डिग्री होना बहुत जरूरी है।
  • पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट होना चाहिए।
  • किसी भी डिप्लोमा कॉलेज से पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन ह्यूमन रिसोर्स डिप्लॉयमेंट।
  • किसी नामचीन बिजनेस स्कूल से एम बी ए इन ह्यूमन रिसोर्स मैनजमेंट।
  • किसी भी कॉलेज से डिप्लोमा एच आर मैनेजमेंट होना चाहिए।

एचआर से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न-

  1. एचआर की सैलरी कितनी होती है?

    Ans- एक एचआर (HR) की न्यूनतम सैलरी किसी भी कंपनी मे कम से कम 20000 से 25000 तक होती है।

  2. HR को हिंदी में क्या कहते है?

    Ans- एचआर को हिंदी में “मानव संसाधन प्रबंधन” कहते है|

  3. HR का पूरा नाम क्या होता है?

    Ans- HR Full Form in Hindi – फुल फॉर्म HR का फुल फॉर्म – Human Resources है। इसे हिंदी में मानव संसाधन कहा जाता है। HRM का full फॉर्म – Human Resources Management है और इसे हिंदी में मानव संसाधन प्रबंधन कहा जाता है।

  4. HR बनने के लिए क्या करे?

    Ans- एचआर बनने के लिए किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक होना चाहिए व स्नातक के साथ आपके पास निम्न में से किसी एक योग्यता का होना जरूरी है|

  5. एचआर (HR) के मुख्य कार्य कौन से है?

    Ans- HR का मुख्य उद्देश्य कम्पनी को उच्च मार्ग तक लेकर जाना, एवं कार्य के अनरूप वर्कर या कर्मचारी को टाइम से वेतन देना होता है।

आज क्या सिखा-

आज हमने इस लेख के माध्यम से HR ka full form kya hai? एचआर का क्या काम होता है, तथा HR की विशेषताए क्या है, और इसी के साथ में एचआर कैसे बने, इस सवालों की पूरी जानकारी हिंदी में दी है, यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करे, तथा अन्य किसी भी जानकारी के लिए निचे कमेंट करे, और हमारे ब्लॉग www.visiontechindia.com को बूकमार्क करना ना भूले, यहाँ पर टेक्नोलॉजी, बिज़नेस आईडिया, और ऑनलाइन पैसे कमाने के बारे में जानकारी शेयर की जाती है।

4.7/5 - (327 votes)

Share this content

Leave a Comment

error: Content is protected !!